खेल

तेंदुलकर ने ICC के सुपर ओवर नियम में बदलाव का किया स्वागत

(सीधीबात न्यूज़ सर्विस)  महान बल्लेबाज सचिन तेंदुलकर ने विश्व कप जैसे टूर्नामेंटों में नॉकआउट चरण में फैसला बाउंड्री की गिनती के आधार पर करने के नियम को खत्म करने के आईसीसी के फैसले का स्वागत किया है. आईसीसी ने सोमवार को सुपर ओवर के नियम में बदलाव करने का फैसला किया. जुलाई में विश्व कप फाइनल में इंग्लैंड को बाउंड्री की गिनती के आधार पर न्यूजीलैंड पर विजयी घोषित करने के फैसले का काफी विरोध हुआ था.

दुबई में बोर्ड की बैठक के बाद आईसीसी ने फैसला किया कि भविष्य में वैश्विक टूर्नामेंटों में सुपर ओवर में भी मैच टाई रहने पर फैसला आने तक सुपर ओवर जारी रखेंगे. तेंदुलकर ने ट्वीट किया,‘मुझे लगा कि यह अहम है क्योंकि एकदम कांटे की टक्कर होने पर नतीजे लाने का यही सही तरीका है .’

Sachin Tendulkar

@sachin_rt

I felt this was important as it is a fair way to obtain a result when nothing else separates the 2 teams. https://twitter.com/OmgSachin/status/1184066276991229953 

OMG SACHIN@OmgSachin

.@sachin_rt had suggested just after the #CWC19 that there should be another Super Over to decide the result of the game if there is a tie even after the Super Over.@ICC has now gone ahead and made that a rule.

Sachin Interview: https://en.100mbsports.com/there-should-be-another-super-over-to-decide-the-winner-sachin-tendulkar-eng/ 

670 people are talking about this

विश्व कप फाइनल के दो दिन बाद तेंदुलकर ने कहा था कि बाउंड्री गिनने की बजाय विजेता के निर्धारण के लिए दूसरा सुपर ओवर खेला जाना चाहिए था.

Sachin Tendulkar

@sachin_rt

Congrats on being elected the @BCCI President, Dadi.
I am sure you will continue to serve Indian Cricket like you always have!🏏
Best wishes to the new team that will take charge.

View image on Twitter
12.6K people are talking about this

तेंदुलकर ने अपने पूर्व साथी क्रिकेटर सौरव गांगुली को भी बीसीसीआई का अगला अध्यक्ष बनने की बधाई दी. उन्होंने कहा,‘बीसीसीआई अध्यक्ष बनने पर बधाई दादी. मुझे यकीन है कि आप भारतीय क्रिकेट की सेवा करते रहोगे जैसे कि हमेशा करते आए हो. नई टीम को बधाई .’

तेंदुलकर ने पहले भी इसका खुलासा किया था कि वह टीम में इकलौते खिलाड़ी थे जो गांगुली को दादा की जगह दादी कहकर बुलाते थे. यह दोनों बल्लेबाज भारत की सबसे सफल सलामी जोड़ी है और वनडे में एक सलामी जोड़ी के रूप में सबसे ज्यादा रन बनाने का रिकॉर्ड भी इनके नाम है.

Source:-Aajtak

संबंधित पोस्ट

धोनी के संन्यास की चर्चाएं हुईं तेज, सचिन तेंदुलकर ने दिया बड़ा बयान

Ansar Aziz Nadwi

विराट कोहली ने पोस्ट की अपनी ऐसी तस्वीर, जिसने देखा वही रह गया हैरान

Ansar Aziz Nadwi

गिरफ्तारी वारंट के बाद अमेरिकी वकील के संपर्क में मोहम्मद शमी

Ansar Aziz Nadwi

अपना कमेंट्स दें

रिव्यु करें