खेल

U-19: जूनियर ब्रिगेड की बादशाहत, बांग्लादेश को हराकर भारत बना एशिया का चैम्पियन

(सीधीबात न्यूज़ सर्विस)  करण लाल (37), कप्तान ध्रूव जोरेल (33) और गेंदबाज अर्थव अंकोलेकर (5 विकेट) के जोरदार संघर्ष के दम पर मौजूदा विजेता भारत ने शनिवार को आर. प्रेमदासा स्टेडियम में खेले गए कम स्कोर वाले रोमांचक फाइनल मैच में बांग्लादेश को 5 रन से हरा अंडर-19 एशिया कप का खिताब अपने नाम कर लिया है. भारतीय टीम पहले बल्लेबाजी करते हुए 32.4 ओवरों में सिर्फ 106 रनों पर ही आउट हो गई.

आसान से लक्ष्य का पीछा करने उतरी बांग्लादेश 33 ओवरों में सिर्फ 101 रनों पर ऑल आउट हो गई. 78 रनों पर अपने आठ विकेट खोने वाली बांग्लादेश को अंत में तनजीम हसन शाकिब (12) और रकिबुल हसन (नाबाद 11) ने जीत के करीब लगभग पहुंचा ही दिया था. बांग्लादेश को जब लगने लगा कि वह जीत हासिल कर लेगी तभी अर्थव ने तनजीम और फिर दो गेंद बाद शाहहीन आलम को आउट कर उसकी उम्मीदों पर पानी फेर दिया.

BCCI

@BCCI

Defending Champions India U19 hold their nerve and seal a thrilling 5 run win over Bangladesh in U19 Asia Cup final. We are proud of you boys! ✌✌

View image on Twitter
1,066 people are talking about this

इससे पहले, बांग्लादेश शुरुआत से ही लगातार विकेट खोती रही. तीन रनों के कुल स्कोर पर उसने पहला विकेट तनजीद हसन (0) के रूप में खोया. यहां से जो विकेट गिरने का सिलसिला शुरू हुआ वो चलता रहा. कप्तान अकबर अली ने बांग्लादेश के लिए सबसे ज्यादा 23 रन बनाए. उनके अलावा मृत्युंजय चौधरी ने 21 रनों का योगदान दिया. भारत के लिए मैन ऑफ द मैच चुने गए अर्थव के अलावा आकाश सिंह ने तीन विकेट अपने नाम किए. सुशांत मिश्रा और विद्याधर पाटिल को एक-एक विकेट मिला.

भारत की युवा टीम भी अच्छी शुरुआत नहीं कर पाई. तीन के कुल स्कोर पर टीम ने अर्जुन आजाद का विकेट खो दिया. आठ रनों पर इंडिया अंडर-19 ने तीन विकेट खो दिए थे. 53 के कुल स्कोर पर भारत को दो लगातार झटके लगे. शाश्वत रावत (19) और वरुण लवांडे (0) पवेलियन लौट लिए. अर्थव भी दो रन बनाकर 61 के कुल स्कोर पर आउट हो गए. एक रन बाद कप्तान ध्रूव भी पवेलियन लौट लिए. यहां से करण ने अकेले लड़ते हुए टीम को 100 के पार पहुंचाया. वह टीम के आखिरी विकेट के तौर पर आउट हुए.

Source:-Aajtak

संबंधित पोस्ट

विराट कोहली बोले- हम अभी 2023 वर्ल्ड कप के बारे में नहीं सोच रहे

Ansar Aziz Nadwi

रायडू थे स्टैंडबाय, लेकिन कोहली-शास्त्री ने मयंक को दिया मौका, ले लिया संन्यास

Ansar Aziz Nadwi

बुमराह का टेस्ट से बाहर रहना विराट ब्रिगेड के लिए खतरे की घंटी तो नहीं?

Ansar Aziz Nadwi

अपना कमेंट्स दें

रिव्यु करें